नरेन्द्र मोदी लोकसभा चुनाव से पहले करेगे इन दो सरकारी योजनाओ की शुरुआत

नरेन्द्र मोदी लोकसभा चुनाव से पहले करेगे इन दो सरकारी योजनाओ की शुरुआत – वतर्मान केंद्र की सरकार यानी कि बीजीपी ने माता वैष्णो देवी मंदिर और रामायण सर्किट टूरिस्ट योजना लेकर अति महत्वपूर्ण कदम उठाए है। जिससे की माता वैष्णो देवी के मंदिर व अन्य तीरथ स्थानों पर जाने वाले श्रादलुओं को लाभ मिल सके। इन दोनों सरकारी योजना को अगले हफ्ते से अधिकारिक रूप से आरम्भ कर दी जाएगी।

सरकारी योजना

क्या है? नरेन्द्र मोदी की शुरु होने वाली दो सरकारी योजनाए

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने सभी श्रधालुओं के हितो को ध्यान में रखते हुए। जो वैष्णो देवी मंदिर जाते है। जो कि जम्मू कश्मीर में स्थित है। इन दो सरकारी योजना को शुरु करने जा रही है। इसके साथ ही नरेन्द्र मोदी ने जम्मू कश्मीर के रियासी जिले में वैष्णो देवी मंदिर के लिए लगभग साथ किलोमीटर लम्बे वैकल्पिक ताराकोट मार्ग का उद्घाटन भी अधिकारिक रूप से अगले सप्ताह में करने जा रही है। बीजीपी सरकार की इन दो सरकारी योजना को शुरु करने से सभी यात्रियों को आवागमन में आसानी होगी। जिससे वह सब कम समय में ही वैष्णो देवी मंदिर के दर्शन कर सकेगे।

बीजीपी के एक आधिकारिक प्रवक्ता ने यह भी बताया है कि श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड (एसएमवीडीएसबी) के अध्यक्ष और राज्यपाल एन एन वोहरा के अनुरोध करने पर ही। भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 19 मई को ताराकोट मार्ग का औपचारिक रूप से उद्घाटन करने के लिये अनुमति दे दी है।

कब खुलेगा यात्रियों के लिए ताराकोट मार्ग

ताजा मिली खबर के अनुसार ताराकोट मार्ग को अधिकारिक रूप से तीर्थयात्रियों के लिये 13 मई की सुबह से खोल दिया जाएगा। जोकि बाणगंगा से अर्धकुंवारी तक 6 किलोमीटर का ट्रैक होगा। इसके अलावा कटरा से भवन यह एक टट्टू मुक्त मार्ग है जो विशेष रूप से वैष्णो देवी के मंदिर आने वाले सभी तीर्थ यात्रियों के द्वारा उपयोग किया जाता है। यह मार्ग लगभग ७ किमी का ट्रैक जोकि 6 मीटर तक चौड़ा है। जिसके चलते सभी तीरथ यात्रियों को माता वैष्णो देवी की यात्रा करने में किसी भी प्रकार की परेशानी न हो।

यूपी 68,500 सहायक शिक्षको की भर्ती 

क्या लाभ मिलेगे ताराकोट मार्ग को शुरु करने से

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में शुरु होने वाली माता वैष्णो देवी मंदिर और रामायण सर्किट टूरिस्ट योजना से यात्रियों के निम्नलिखित लाभ मिलेगे।

  • तारकोट मार्ग पैदल तीर्थयात्रियों को एक स्वच्छ और सुंदर मार्ग प्रदान करेगा।
  • इसके अंतर्गत 2 भोजानालय व 4 व्यू पॉइंट और 7 शौचालय ब्लॉक भी होंगे हैं।
  • इतना ही नहीं सभी यात्रियों के हितो का ख्याल रखते हुए। 24X7 आधार पर तीर्थयात्रियों की सुविधा के लिए डॉक्टरों , पैरामेडिक्स, दवाइयों और उपकरणों से सुसज्जित एक चिकित्सा इकाई की स्थापना भी की गई है।

आपको यह भी पता ही होगा कि 11 मई को कर्नाटक में विधानसभा के चुनाव शुरु होने वाले है। इसी को ध्यान में रखते हुए श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नेपाल के जनकपुर शहर से लेकर अयोध्या तक एक बस सेवा की शुरुआत करने का एलान भी किया है। इन दो सरकारी योजना को लेकर यह एक महत्वपूर्ण कदम होगा।

कुल कितने बजट को प्रस्तावित किया गया है इन सरकारी योजनाओ को शुरु करने में

भारत की केंद्र सरकार द्वारा रामायण सर्किट योजना के पहले चरण के लिए लगभग 245 करोड़ रूपये के बजट को भी प्रस्तावित भी किया है। इसके साथ ही चित्रकूट और श्रृंगवेरपुर के बीच आने वाले 11 तीरथ स्थलों के लिए भी अलग बजट प्रस्तावित किया गया है। इन महत्वपूर्ण धार्मिक स्थलों को पर्यटन की दृष्टि से विकसित किया जाएगा। जिससे की माता वैष्णो देवी मंदिर आने वाले सभी यात्रियों को अधिक से अधिक सुविधा दी जा सके।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *